Bus Driver Recruitment 2023: रोडवेज में सरकारी बस ड्राइवर कैसे बनें, जानें कितना पढ़ा लिखा होना है जरूरी


भारतीय रोडवेज ने हाल ही में अपने ड्राइवरों के लिए नौकरी की विज्ञापन जारी किया है। अगर आप ड्राइविंग में माहिर हैं और रोडवेज में नौकरी करना चाहते हैं तो यह आपके लिए एक बढ़िया मौका हो सकता है।

भारतीय रोडवेज एक सरकारी कंपनी है जो राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में सड़क परिवहन सेवाएं प्रदान करती है। यह कंपनी अपने सेवाओं के लिए ड्राइवरों की आवश्यकता होती है जो वाहनों को सुरक्षित तरीके से चलाने में सक्षम हों।

यदि आप भारतीय रोडवेज में ड्राइवर के पद के लिए आवेदन करने की सोच रहे हैं, तो आपको निम्नलिखित जानकारी का पालन करना होगा

सुरक्षा और सेवा हमारी पहचान, रोडवेज नौकरी हमारी शान।

भारत में रोडवेज सेवाओं के ड्राइवरों की नौकरी के फायदे और नुकसान

फायदे:

  1. सुरक्षित रोड यात्रा: ड्राइवर ने एक अहम भूमिका निभाई होती है जो सुरक्षित रोड यात्रा सुनिश्चित करता है।
  2. विस्तृत क्षेत्र के अवसर: रोडवेज ड्राइवरों को अनेक शहरों और राज्यों में यात्रा करने का मौका मिलता है।
  3. स्थायी रोजगार: रोडवेज ड्राइवरों को स्थायी रोजगार का मौका मिलता है जो उनके परिवार के लिए सुरक्षितता का अधिकतम स्तर सुनिश्चित करता है।
  4. आत्मनिर्भरता: ड्राइवर अपने वाहन में खुद के लिए खाने-पीने का व्यवस्था कर सकते हैं जो उन्हें आत्मनिर्भर बनाता है। नुकसान :

    1) शारीरिक श्रम: रोडवेज ड्राइवरों को लंबी दूरी तय करने के लिए अक्सर दिन भर वाहन में बैठना पड़ता है, जो उनके शारीरिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।
    2) बढ़ती ट्रैफिक: अंतिम कुछ वर्षों में भारत में ट्रैफिक में बढ़ोतरी हुई है, जिससे ड्राइवरों के लिए सफर अधिक थकाऊ और समय लगाने वाला होता है।
    3) दिलचस्पी कम: ड्राइवरों के लिए कुछ लोगों के अनुभवों में उनकी नौकरी से संबंधित दिलचस्पी कम होती है जो उनकी मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती है।
    4) व्यापक नेटवर्क की कमी: ड्राइवरों के लिए व्यापक नेटवर्क की कमी होती है जो उन्हें अक्सर अधिक उद्योगीकृत क्षेत्रों से दूर रखती है।

भारतीय रोडवेज में ड्राइवर के पद के लिए शैक्षणिक योग्यता क्या होती है?(Education Qualification)

भारतीय रोडवेज में ड्राइवर के पद के लिए शैक्षणिक योग्यता 10वीं या 12वीं की पास होना होती है। यह पद अक्सर उन लोगों के लिए होता है जो अनपढ़ होते हुए भी ड्राइविंग करने में माहिर होते हैं।

इसलिए, भारतीय रोडवेज में ड्राइवर के पद के लिए शैक्षणिक योग्यता की जगह, आवेदक को एक वैध ड्राइविंग लाइसेंस होना चाहिए। इसके अलावा, आपको अच्छी तरह से ड्राइविंग आवश्यकताओं को समझना चाहिए और सुरक्षित तरीके से वाहनों को चलाने की क्षमता होनी चाहिए।

भारतीय रोडवेज में ड्राइवर की नौकरी के लिए क्या शारीरिक योग्यता आवश्यक होती है?( Physical Qualification)



1) उम्र: उम्र का अधिकतम सीमा आमतौर पर 28 वर्ष होती है।

2) ऊँचाई: ड्राइवर की नौकरी के लिए आवेदक की ऊंचाई कम से कम 160 सेमी होनी चाहिए।

3) वजन: आवेदक का वजन ऊंचाई के अनुसार संबंधित होना चाहिए। आमतौर पर, पुरुष ड्राइवरों का वजन 50 किलोग्राम से अधिक नहीं होना चाहिए और महिला ड्राइवरों का वजन 45 किलोग्राम से अधिक नहीं होना चाहिए।

4) दौड़ने की क्षमता: ड्राइवर की नौकरी के लिए दौड़ने की क्षमता आवश्यक होती है। ड्राइवर को लंबे समय तक बैठे रहना पड़ता है, इसलिए उन्हें शारीरिक क्षमता वाले होना चाहिए।

5) ड्राइविंग लाइसेंस: ड्राइवर के पद के लिए एक वैध ड्राइविंग लाइसेंस आवश्यक होता है।

इसके अलावा, ड्राइवर को गाड़ी चलाने के लिए अच्छी निगरानी करने की क्षमता और अच्छी रहन-सहन की क्षमता होनी चाहिए

भारतीय रोडवेज में ड्राइवर की नौकरी के लिए कोनसे आवश्यक दस्तावेज होते हैं?(Documents Requirement)



1) पासपोर्ट आकार की फोटो
2) शैक्षणिक प्रमाणपत्र
3) जन्मतिथि प्रमाणपत्र
4) पता प्रमाणपत्र
5)ड्राइविंग लाइसेंस
6) अनुभव प्रमाणपत्र (यदि आवेदक एक पूर्व नियुक्ति के रूप में आवेदन कर रहा है)
7) स्थायी निवास प्रमाणपत्र (यदि ड्राइवर अन्य शहर से आवेदन कर रहा है)
8) बैंक खाता विवरण (जहां वेतन क्रेडिट किया जाएगा)
9) इसके अलावा, कुछ अन्य दस्तावेज भी आवेदकों से मांगे जा सकते हैं, जैसे आधार कार्ड, पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड आदि, जो कंपनी की नीतियों और राज्य के कानून के अनुसार हो सकते हैं।

भारतीय रोडवेज में ड्राइवरों की वेतनमान कितनी होती है?(Salary Package)


भारतीय रोडवेज में ड्राइवरों की वेतनमान विभिन्न होती है और यह आवेदक के अनुभव, क्षमता, वाहन के प्रकार और कार्यस्थल के आधार पर अलग-अलग होती है।

आमतौर पर, भारतीय रोडवेज में नई नियुक्तियों के लिए आरंभिक वेतन रुपये 20,000 से 25,000 प्रति माह होता है। इसके अलावा, वे अन्य लाभ जैसे कि मुफ्त रहना और खाना, अस्पताल भत्ता, रिटायरमेंट लाभ आदि का भी उपयोग उठा सकते हैं।

कुछ राज्यों में वेतन और अन्य लाभ से संबंधित निर्देश अलग होते हैं। इसलिए, नौकरी के लिए आवेदन करने से पहले उचित जानकारी प्राप्त करना अत्यंत आवश्यक होता है।

भारतीय रोडवेज में ड्राइवरों की नौकरी का स्थान कोनसा रहता है?(Job Location)


भारतीय रोडवेज में ड्राइवरों की नौकरी अधिकतर राज्यों में उपलब्ध होती है। ड्राइवर जिस क्षेत्र में काम करते हैं, वहां की भारतीय रोडवेज के जिला मानचित्र और कार्यालयों के आधार पर तय किया जाता है।

भारतीय रोडवेज के कुछ प्रमुख कार्यालय हैं जैसे दिल्ली, मुंबई, बंगलौर, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता, लखनऊ, जयपुर, चंडीगढ़, अहमदाबाद, पटना आदि। इन कार्यालयों में ड्राइवरों की नौकरी उपलब्ध होती है।

इसके अलावा, भारतीय रोडवेज के अलग-अलग डिपो और टर्मिनलों में भी नौकरी के अवसर होते हैं। इन डिपो और टर्मिनलों में सीधे ड्राइवरों को नियुक्ति दी जाती है

कैसे होता है सेलेक्शन (Selection Process)


सरकारी बस ड्राइवर पद के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों का सबसे पहले फॉर्म स्क्रूटिनी किया जाता है. इसके बाद प्राइमरी ड्राइविंग टेस्ट के लिए संबंधित मंडलीय कार्यालय क्षेत्र में बुलाया जाता है. प्राइमरी ड्राइविंग टेस्ट पास करने के बाद फाइनल ड्राइविंग टेस्ट होगा.

रोडवेज सेवा अच्छी करें, सुरक्षित ड्राइविंग का जश्न मनाएं

भारतीय रोडवेज में ड्राइवरों की नौकरी के लिए आवेदन कहा पर करे?(How to apply)

आधिकारिक वेबसाइट: आप भारतीय रोडवेज की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर नौकरी के विवरण देख सकते हैं और अपना आवेदन ऑनलाइन सबमिट कर सकते हैं। यह आपको भर्ती प्रक्रिया के बारे में सटीक जानकारी भी देगा।

रोजगार अखबार: आप रोजगार अखबारों और नौकरी तलाशने वाली वेबसाइटों पर भी ड्राइवरों की नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। आप अपने नौकरी के विवरण जान सकते हैं और ऑनलाइन या ऑफ़लाइन आवेदन कर सकते हैं।

अधिकृत संपर्क: आप भारतीय रोडवेज के निकटतम कार्यालय में भी जा सकते हैं और वहाँ नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इससे आपको नौकरी की विवरण और भर्ती प्रक्रिया के बारे में सटीक जानकारी मिल सकती है।

Thanks for visit again

Leave a Comment